Satya Darshan

लोस प्रत्याशी बीजेपी सांसद राकेश सिंह की उम्र बढने की बजाय इसबार दो साल कम हो गई

जबलपुर | अप्रैल 15, 2019

चुनाव जो न कराए सो कम है, अब की बार जबलपुर के सांसद व मध्य प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष लोकसभा प्रत्याशी राकेश सिंह की तो पिछले 5 साल में उम्र बढऩे की बजाय 2 साल कम हो गई है, जिसके बाद सोशल मीडिया में वे जमकर ट्रोल हो रहे हैं.

कुछ लोगों का तो यह कहना था कि उम्र घटाने का असर भाजपा का 75 साल का जो फार्मूला है, उसकी तोड़ अभी से शुरू हो गई है.

सांसद राकेश सिंह ने 2014 में उनकी उम्र 53 साल थी, इस हिसाब से 2019 में उनकी उम्र 58 साल होनी चाहिए, परंतु उन्होंने अपनी उम्र में कटौती करके 56 दर्ज की है. इस तरह उन्होंने 5 साल में 2 साल बचा लिए.

यदि इसी तरह चलता रहा तो सांसद राकेश सिंह की बायलॉजिकल एज 90 हो जाने पर भी उनकी डॉक्यूमेंटल एज 75 नहीं हो पाएगी.  

5 साल में 3 साल बढ़ी आयु

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह की उम्र 5 वर्ष में सिर्फ तीन साल ही बढ़ी है, पिछले चुनाव में उन्होंने अपनी उम्र जहां 53 साल दर्शाई थी तो वहीं 5 साल बाद जब इस बार अपना नामांकन किया तो उन्होंने अपनी उम्र 56 वर्ष दर्शाई है, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष की उम्र अब चुनावी मुद्दा बनी है.

भारतीय जनता पार्टी के नेता चुनावी शपथ पत्र में गलत जानकारियां देने की वजह से पहले भी कंट्रोवर्सी में फंस चुके हैं. पहले नरेंद्र मोदी की शादी का मामला, फिर स्मृति ईरानी की पढ़ाई का मामला और अब प्रदेश में राकेश सिंह की उम्र का है मुद्दा उठ रहा है.
 
सोशल मीडिया पर ट्रोल

राकेश सिंह ने नामांकन फार्म में दाखिल हलफनामे में अपनी उम्र 56 वर्ष लिखी गई है. वहीं 2014 में राकेश सिंह में अपनी उम्र 53 वर्ष लिखी थी. सोशल मीडिया पर लोग इस मुद्दे को लगातार ट्रोल कर रहे है.

कमल नाथ सरकार के कैबिनेट मंत्री लखन घनघोरिया ने इस पर तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी के लोग झूठ बोलते हैं. यह इसका एक छोटा सा उदाहरण है और अभी तो ऐसे कई झूठ सामने आने हैं.

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved