Satya Darshan

बीजेपी को करारा झटका, अमेठी मे स्मृति ईरानी के मुख्य सहयोगी रविदत्त मिश्रा ने थामा कांंग्रेस का हाथ

नयी दिल्ली (एसडी) | अप्रैल 12, 2019

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को तगड़ा झटका लगा है. जिस वक्त ईस्ट यूपी की 8 अहम सीटों पर लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण के लिए वोट डाले जा रहे थे, उसी समय अमेठी में बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के अहम सहयोगी रवि दत्त मिश्रा ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया. 

रवि दत्त मिश्रा स्मृति इरानी को अमेठी लाने वालों में से थे और पिछले 25 साल से ज्यादा समय से बीजेपी से जुड़े थे. अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी समेत पूर्वी उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को फायदा मिलने की उम्मीद जताई जा रही है.

सात चरणों में होने वाले लोकसभा चुनाव 2019 के पहला चरण की वोटिंग हो चुकी है. इसमें यूपी की 8 सीटों पर भी चुनाव हो चुका है. यूपी में इस बार बीजेपी के लिए आर या पार की लड़ाई है. इस बीच उत्तर प्रदेश में बीजेपी को करारा झटका लगा है. 

यूपी के एक अहम सीट अमेठी, जहां से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी चुनाव लड़ रहे हैं और उनको बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से कड़ी चुनौती मिलने की उम्मीद जताई जा रही है. लेकिन इस बीच स्मृति इरानी को अमेठी लाने वाले यूपी के दिग्गज नेता रवि दत्त मिश्रा ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया है. रवि दत्त मिश्रा यूपी की पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी सरकार में मंत्री रह चुके हैं.

मालूम हो कि स्मृति इरानी जब भी अमेठी आती थीं, रवि दत्त मिश्रा ने निवास पर ही ठहरती थीं. गुरुवार को रवि दत्त मिश्रा ने पूर्वी यूपी की कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वांड्रा से मुलाकात कर कांग्रेस पार्टी जॉइन कर ली. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की मौजूदगी में रवि दत्त मिश्रा ने कांग्रेस का दामन थामा है. रवि दत्त मिश्रा के कांग्रेस से जुड़ने से अमेठी में तो खासकर बीजेपी को तगड़ा झटका लगा है.

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved