Satya Darshan

मोदी सरकार के अन्याय को खत्म करने के लिए कांग्रेस न्याय लेकर आयी है : राहुल गांधी

बिहार (एसडी) | अप्रैल 10, 2019

गया : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला बोला और कहा कि केंद्र द्वारा किये गए ‘‘अन्याय’’ को खत्म करने के लिए उनकी पार्टी ‘‘न्याय’’ लेकर आयी है. राहुल गांधी का इशारा प्रस्तावित ‘न्यूनतम आय गारंटी योजना’ की ओर था.

राहुल का वार

राहुल ने कहा कि ‘‘यह देश में सभी गरीबों के बैंक खातों में 15 लाख रुपये डालने के मोदी द्वारा किये गए बड़बोले वादे से उलट है. उन्होंने कहा कि संक्षिप्त शब्द ‘‘न्याय’’ के तौर पर जानी जाने वाली प्रस्तावित योजना एक वास्तविक उपाय है, जिसे अर्थव्यस्था को बिना नुकसान पहुंचाये या आम आदमी पर कर का बोझ बढ़ाये बिना लागू किया जा सकता है.

उन्होंने मोदी पर यह ‘‘झूठ’’ फैलाने का आरोप लगाया कि न्याय को लागू करना खर्चीला होगा जिसके लिए कांग्रेस को पर्याप्त धनराशि नहीं मिलेगी जब तक वेतनभोगी वर्ग पर और कर नहीं लगाया जाता.

मोदी ने संभाल रखी है अंबानी, नीरव व मेहुल जैसों की चौकीदार की भूमिका

एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि मैं वादा करता हूं कि योजना को पार्टी के सत्ता में आने के तत्काल बाद लागू किया जाएगा. हम पैसे अनिल अंबानी, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी जैसे लोगों की जेबों से निकालेंगे जिनके चौकीदार की भूमिका मोदी ने संभाल रखी है.

गांधी ने मोदी पर उनके चौकीदार दावे को लेकर हमला बोलते हुए कहा कि गरीब एक चौकीदार नहीं रख सकता जो कि एक ऐसी विलासता है जिसका वहन केवल अमीर ही कर सकते हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी नीरव मोदी, अंबानी और चोकसी जैसे बड़े उद्योगपतियों के ही चौकीदार हैं. गांधी की टिप्पणी का सभा में मौजूद लोगों ने ‘‘चौकीदार चोर है’’ के नारे लगाकर स्वागत किया.

उन्होंने कहा कि न्याय के तहत 72 हजार रुपये प्रतिवर्ष का वादा किया गया है जो कि पांच वर्षों में 3.60 लाख रुपये से अधिक बैठता है. अब आपको 15 लाख रुपये के झूठ और 3.60 लाख रुपये के सच के बीच चयन करना है.

उल्लेखनीय है कि इस मौके पर अभिनेता व नेता शत्रुघ्न सिन्हा मौजूद थे जो हाल में भाजपा छोड़कर पार्टी में शामिल हुए हैं. इसके अलावा इस मौके पर महागठबंधन के स्थानीय उम्मीदवार एवं बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी एवं अन्य मौजूद थे.

मोदी के नाटक में किसान, श्रमिक व बेरोजगार नहीं

गांधी ने 11 अप्रैल को लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार थमने से ठीक पहले गया में आयोजित रैली में कहा कि नारा ‘चौकीदार चोर है’ पूरे देश में गूंज रहा है और इसने नारा ‘अच्छे दिन आने वाले हैं’ की जगह ले ली है जो मोदी ने पांच वर्ष पहले दिया था. इस बदलते राजनीतिक मूड से परेशान वह एक दूसरा जुमला ‘मैं भी चौकीदार’ लेकर आए हैं.

उन्होंने कहा कि मोदी को पता होना चाहिए कि उनके इस नाटक में उनके साथी उनके साथ हो सकते हैं लेकिन किसान, श्रमिक और बेरोजगार युवक नहीं. गांधी ने मोदी पर चुनाव प्रचार के दौरान उनके आक्रामक राष्ट्रवादी रुख को लेकर भी हमला बोला और उन पर राफेल सौदे को लेकर निशाना साधा.

कांग्रेस नेता ने कहा कि फ्रांस के साथ मनमोहन सिंह के समय बनी सहमति के तहत लड़ाकू विमानों का निर्माण एचएएल द्वारा किया जाना था. उन्होंने दावा किया कि ऋण लेने वाले किसान भय में जीते हैं कि उन्हें कर्ज नहीं चुकाने के लिए जेल जाना पड़ सकता है. यह इस तथ्य के बावजूद है कि बड़े रिण चूककर्ता हजारों करोड़ रुपये के बकाये ऋण के साथ देश से भागने में सफल रहे.

उन्होंने कहा कि हम यह सुनिश्वित करेंगे कि रिण नहीं चुका पाने के चलते किसी किसान को परेशान नहीं होना पड़े. गांधी ने कहा कि हमने मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, और राजस्थान जैसे राज्यों में किसानों के ऋण माफ किये और ‘न्याय’ जैसे वादे केवल एक शुरुआत है. उन्होंने सरकारी विभागों में खाली पड़े 22 लाख पद भरने की अपनी प्रतिबद्धता भी दोहरायी.

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved