Satya Darshan

आचार संहिता की उड़ी धज्जियां, टीवी सीरीयल्स मे खुलेआम हो रहा भाजपा का प्रचार प्रसार

अप्रैल 9, 2019

आगामी लोकसभा चुनाव जीतने के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और बीजेपी अपनी उपलब्धियां गिनाने में कोई भी माध्यम नहीं छोड़ रही है। भारत के सबसे पॉपुलर एंटरटेनिंग चैनल जी टेलीविजन ग्रुप की स्वामित्व वाली एंड टीवी पर कुछ ऐसे शो प्रसारित हो रहे हैं, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि और केंद्र की बीजेपी सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं को एक योजनाबद्ध तरीके से बढ़ा-चढ़ाकर दिखाया जा रहा है।

सबसे हैरानी की बात यह है कि लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर देशभर में मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट यानी आचार संहिता लागू होने के बावजूद मोदी सरकार की इन योजनाओं से संबंधित आंकड़ों को बिना किसी अस्वीकरण (डिस्क्लेमर) के खुल्लम खुल्ला दर्शकों के सामने पेश कर उन्हें बीजेपी की तरफ आकर्षित करने की कोशिश की जा रही है। ट्विटर पर लोग इसकी जमकर आलोचना कर रहे हैं।

लोगों का आरोप है कि टीवी का पॉपुलर कॉमेडी सीरियल ‘भाभी जी घर पर हैं’ सीरीयल के टेलीकास्ट शो में केंद्र की मौजूदा मोदी सरकार से जुड़ी योजना ‘स्वच्छ भारत अभियान’ और ‘प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना’ सहित अन्य योजनाओं को बिना किसी डिस्कलेमर के बढ़ा-चढ़कर दिखाया जा रहा है। ट्विटर पर @Victimgames नाम के एक यूजर द्वारा सीरियल का वीडियो ट्वीट करने के बाद यह मामला प्रकाश में आया।

जीटीवी और एंड टीवी के कई धारावाहिकों में पिछले एक सप्ताह से केंद्रीय योजनाओं का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। इनमें किसी पार्टी का दल का नाम नहीं लिया जा रहा है, पर जिन योजनाओं के बारे में सीरियल के कलाकार जिक्र कर रहे हैं, वह केंद्र की राजग सरकार की योजनाएं हैं।

जीटीवी के धारावाहिक “तुझसे है राब्ता”, “कुंडली भाग्य”, “कसौटी जिंदगी की”, “सारे गामा लिटिल चैंप्स” और एंड टीवी के प्रचलित धारावाहिक “भाभी जी घर पर हैं” में केंद्रीय योजनाओं के बारे में जानकारी दी जा रही है। इसके जरिये दर्शकों के माइंडसेट को बदलने की कोशिश की जा रही है।

दो अप्रैल को जीटीवी के धारावाहिक “तुझसे है राब्ता” में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना की जानकारी दी जा रही है, जिसमें 10 लाख रुपये तक के कर्ज देने की बातें कलाकारों ने कहीं।

वहीं “कुंडली भाग्य” सीरियल में नानियों ने कहा कि प्रधानमंत्री बीमा योजना में 12 रुपये में एक व्यक्ति का बीमा कराया जा रहा है। जिसमें अपंगता होने पर एक लाख और दुघर्टना में मारे जाने पर दो लाख रुपये का मुआवजा दिया जाता है।

इतना ही नहीं “सारे गामा लिटिल चैंप्स” में प्रतिभागी बच्चों से यह प्रचारित कराया जा रहा है कि वे देश के सबसे बड़े त्योहार में अपना मताधिकार का प्रयोग अवश्य करें। सबसे ज्यादा तो “भाभी जी घर पर हैं” सीरियल में प्रचार प्रसार हो रहा है।

इसमें एक व्यक्ति का ही बिना नाम लिये गुनगान किया जा रहा है, जिसमें कहा जा रहा है कि उनके पांच साल के कार्यकाल में पांच लाख महिलाओं को उज्जवला योजना के तहत रसोई गैस कनेक्शन दिये गये।

स्वच्छता अभियान के बारे में कहा गया कि जागरुकता की कमी से यह अभियान धीमा पड़ गया है। इस धारावाहिक के कलाकारों ने यहां तक कहा कि एक वो व्यक्ति है, जो देश की अखंडता और संप्रुभता के लिए पांच साल से काम कर रहा है।

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved