Satya Darshan

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने तोडी आचार संहिता, एसडीएम को धमकाया कहा हिम्मत है तो भेजो जेल

पटना | मार्च 31, 2019

लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर आचार संहिता को बनाये रखने के लिए निर्वाचन आयोग कमर कस चुका है, मगर कुछ नेता हैं जो आचार संहिता की धज्जियां उड़ाने में लगे हुए हैं. बिहार के बक्सर में आचार संहिता का उल्लंघन की बात पर भड़के केंद्रीय मंत्री और बक्सर से बीजेपी के उम्मीदवार अश्विनी चौबे ने एक अधिकारी के साथ न सिर्फ अभद्रता की, बल्कि उन्हें धमकाया भी. बक्सर में एक चुनावी सम्मेलन में जा रहे अश्विनी चौबे के काफिले में गाड़ियों की संख्या आचार संहिता का उल्लंघन कर रही थी. अनुमति से ज़्यादा गाड़ियों के काफिले पर प्रसासन के द्वारा आचार संहिता के उल्लंघन की बात पर भड़के केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने बक्सर के एसडीएम केके उपाध्याय को बुरा भला कहा और उनसे बदसलूकी भी की. इतना ही नहीं, यह भी चिल्लाते हुए कहा कि कि हिम्मत तो ले चलो जेल. किसके आदेश से मेरी गाड़ी रोके हो?

दरअसल, बिहार की राजनीति में ऐसा कहा जाता है कि अश्विनी चौबे को यह पसंद नहीं है कि कोई उन्हें टोके. लेकिन भारतीय जनता पार्टी के नेता और केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने जिस प्रकार कानून को अपना काम करने से रोका यह आचार संहिता के उल्लंघन का मामला बनता है. शनिवार को पहली दफा टिकट मिलने के बाद बक्सर आये केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे किला मैदान हो रहे कार्यक्रम में अनुमति से ज्यादा वाहनों के होने पर किये गए प्रशासन द्वारा सवाल पर भड़क गए और उन्होंने अधिकारी से बदतमीजी की. 

केंद्रीय मंत्री चौबे एसडीएम पर इतने भड़क गये कि उन्होंने अधिकारी को जेल में डालने की चुनौती दे दी. इतना ही नहीं, उन्होंने अधिकारी से कहा कि किसका आदेश है, तो अधिकारी ने काफी विनम्रता से कहा कि चुनाव आयोग का. मगर अश्विनी चौबे इतने पर ही नहीं रुके और वह अपनी गाड़ी का दरवाजा खोल उस पर खड़े होकर कहने लगे ये गाड़ी मेरी है...हिम्मत है तो जेल भेजो, चलो जेल भेजो.. तमाशा करते हैं आपलोग..'

एएनआई के ट्विटर पर जाकर देखें वीडियो में साफ दिख रहा है कि अधिकारी केंद्रीय मंत्री को आचार संहिता के उल्लंघन की बात बता रहा है, जिसके बाद केंद्रीय मंत्री भड़क जाते हैं और धमकाते हुए भी दिख रहे हैं. हालांकि, इसके बाद अधिकारी ने केंद्रीय मंत्री के काफिले को आगे बढ़ने दिया. घटना के बाद एसडीओ ने कहा कि अनुमति से ज्यादा वाहन थे, इसलिए कार्रवाई तो होकर ही रहेगी. बता दें कि केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे बक्सर से उम्मीदवार हैं. 

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved