Satya Darshan

23 मार्च : इतिहास मे आज क्या है खास

मार्च 23, 2019

भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान क्रांतिकारी भगत सिंह और उनके साथियों राजगुरु और सुखदेव को 1931 में आज ही के दिन फांसी दी गई थी।

28 सितंबर 1907 में जन्मे भगत सिंह मात्र 12 साल के थे जब जलियांवाला बाग कांड हुआ. इसने उनके मन में अंग्रेजों के खिलाफ गुस्सा भर दिया. आजादी के लिए अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई में वह महात्मा गांधी के अहिंसात्मक तरीकों से सहमत नहीं थे. उन्होंने अपने लिए क्रांतिकारी रास्ता चुना।

काकोरी कांड में रामप्रसाद बिस्मिल के साथ चार और क्रांतिकारियों को फांसी की सजा मिलने पर उनका गुस्सा और बढ़ गया. इस मामले में 16 और क्रांतिकारियों को जेल की सजा सुनाई गई. उसके बाद भगत सिंह चन्द्रशेखर आजाद के साथ हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन में शामिल हो गए।

1928 में साइमन कमीशन के बहिष्कार के लिए जबरदस्त प्रदर्शन हुए. इसी दौरान लाठी चार्ज में लाला लाजपत राय को गंभीर चोटें आईं और बाद में उनकी मौत हो गई. इसका बदला लेने के लिए भारतीय क्रांतिकारियों ने पुलिस सुप्रिटेंडेंट स्कॉट की हत्या की योजना बनाई. 17 दिसंबर 1928 को लाहौर कोतवाली के सामने स्कॉट की जगह अंग्रेज अधिकारी जेपी सांडर्स पर हमला हुआ, जिसमें उनकी जान चली गई।

आठ अप्रैल 1929 को भगत सिंह ने अपने क्रांतिकारी साथी बटुकेश्वर दत्त के साथ मिलकर ब्रिटिश भारत की दिल्ली स्थित तत्कालीन सेंट्रल एसेंबली में बम फेंके. हालांकि इस हमले का मकसद अंग्रेज सरकार को डराना था इसलिए बम सभागार के बीच में फेंके गए जहां कोई नहीं था।

घटना के बाद वहां से भागने के बजाय वह जानबूझकर खड़े रहे और खुद को अंग्रेजों के हवाले कर दिया. वो अंजाम अच्छी तरह जानते थे और यही वो चाहते थे ताकि उनकी फांसी के बाद जो लहर पैदा होगी वह उनके जीते जी शायद उतनी जल्द प्रभावी न हो. करीब दो साल जेल में रहने के बाद 23 मार्च 1931 को भगत सिंह को राजगुरु और सुखदेव के साथ फांसी पर चढ़ा दिया गया. बकुटेश्वर दत्त को आजीवन कारावास की सजा मिली।

🔖23 मार्च की अन्य महत्त्वपूर्ण घटनाएँ –

★पश्चिम बंगाल के चंद्रनगर पर 1357 में लार्ड क्लाइव ने फ्रांसीसियों को हराकर कब्जा किया।

★पिनेरोलो पिडमाउंट पर फ्रांस की सेना ने 1630 में कब्जा किया।

★ब्रिटेन की संसद में सुधार विधेयक 1832 में पारति किया गया।

★फ्रेंकलिन बेल ने 1836 में सिक्के छपाई के प्रेस का आविष्कार किया।

★लिथुआनिया ने 1918 में स्वतंत्रता की घोषणा की।

★बेनिटो मुसोलिनी ने 1919 में इटली के मिलान में फासिस्ट आंदोलन की शुरुआत की।

★ऑल इंडिया मुस्लिम लीग ने 1940 में मुसलमानों के लिए अलग देश की मांग की।

★अमेरिकी कांग्रेस ने 1945 में फिलीपींस की स्वतंत्रता को मान्यता दी।

★संयुक्त राष्ट्र ने 1950 में विश्व मौसम विज्ञान विभाग की स्थापना की।

★सन 1956 में पाकिस्तान दुनिया का पहला इस्लामिक गणतंत्र देश बना।

★नासा ने 1965 में पहली बार “जैमिनी 3” अंतरिक्ष यान से दो व्यकितयों को अंतरिक्ष में भेजा।

★केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल में महिलाओं की पहली कंपनी को 1986 में प्रशिक्षित किया गया।

★पश्चिमी जर्मनी के एक ब्रितानी सैनिक ठिकाने में 1987 में हुए कार बम हमले में लगभग 30 लोग घायल हो गए हैं।

★प्रोफ़ेशनल चेस एसोसियेशन कैंडीडेट्स के फ़ाइनल श्रृंखला को 1995 में भारत के विश्वनाथन आनंद ने जीता।

★पराग्वे के उपराष्ट्रपति पुई मारिया अरगाना की 1999 में हत्या।

★रूसी अंतरिक्ष स्टेशन ‘मीर’ की 2001 में जल समाधि।

★दक्षिण अफ़्रीका में वाडरर्स में 2003 में हुए विश्व कप क्रिकेट के फ़ाइनल में आस्ट्रेलिया ने  भारत को 125 रनों से हराकर विश्व कप पर कब्ज़ा बरकरार रखा।

★मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर 2012 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतकों का कीर्तिमान बनाने वाले पहले क्रिकेटर बने।

★यूरोपीय संघ और अमेरिका ने 2014 में रूस पर प्रतिबंध लगाए।

🔖23 मार्च को जन्मे व्यक्ति –

★मुग़ल बादशाह शाहजहांऔर ‘मुमताज़ महल’ की सबसे बड़ी पुत्री जहाँआरा का 1614 में जन्म हुआ।

★भारत की स्वतंत्रता सेनानी बसंती देवी का 1880 में जन्म हुआ।

★बीसवीं सदी पूर्वार्द्ध के प्रख्यात संस्कृत कवि भट्ट मथुरानाथ शास्त्री का 1889 में जन्म हुआ।

★महान स्वतंत्रता सेनानी एवं प्रख्यात समाजवादी नेता राममनोहर लोहिया का 1910 में आज ही के दिन जन्म हुआ।

★भारतीय क्रांतिकारी एवं स्वतंत्रता सेनानी हेमू कालाणी का 1923 में जन्म हुआ।

★भारतीय महिला व्यवसायी किरण मजूमदार-शॉ का 1953 में जन्म हुआ।

★टेनिस खिलाड़ी योनास ब्योर्कमैन का 1972 में जन्म हुआ।

★पूर्व टेलीविजन अभिनेत्री, ‘भारतीय जनता पार्टी’ की प्रतिष्ठित पारसी महिला स्‍मृति ईरानी का 1976 में जन्‍म हुआ।

★हिंदी फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत का 1987 में जन्म हुआ।

🔖23 मार्च को हुए निधन –

★1931 में आज ही के दिन महान क्रांतिकारी भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को फांसी दी गई थी।

★1988 में पंजाबी कवि पाश का निधन।

★2003 में हरियाणा राज्य के स्वतंत्रता-संग्राम-सेनानी, सामाजिक कार्यकर्ता, इतिहासकार तथा शिक्षक, स्वामी ओमानन्द सरस्वती का निधन।

★2010 में नक्सली आंदोलन के जनक भारतीय कानू सान्याल का निधन।

★2015 में सिंगापुर के प्रथम प्रधानमंत्री ली क्वान यू का निधन।

 

🔖23 मार्च के महत्वपूर्ण दिवस –

★शहीद दिवस (भारत)

★विश्व मौसम विज्ञान दिवस

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved