Satya Darshan

19 मार्च : इतिहास मे आज क्या है खास

मार्च 19, 2019

सन 1972 में आज ही के दिन भारत और बांग्लादेश ने मैत्री संधि पर हस्ताक्षर किए थे।

1971 में तत्कालीन पूर्वी पाकिस्तान की आजादी की लड़ाई में भारत ने जिस तरह बांग्लादेश के अस्तित्व में आने की राह पर साथ दिया, वही दोनों देशों के बीच गहरी दोस्ती और अच्छे संबंधों की नींव बनी. 19 मार्च, 1972 को मैत्री संधि पर दोनों देशों के हस्ताक्षर के बाद आपसी सहयोग का एक नया दौर शुरू हुआ. बीते चालीस सालों में भारत-बांग्लादेश संबंधों ने भी कई उतार चढ़ाव देखे लेकिन हर हाल में मित्रता बरकरार रही।

पाकिस्तान से युद्ध खत्म होने के तुरंत बाद बांग्लादेश में बनी आवामी लीग की सरकार ने सीधे तौर पर भारत समर्थक नीतियां अपनाईं. 1971 से लेकर 1975 तक के समय को दोनों देशों के संबंधों को मजबूत बनाने वाला समय माना जाता है. शांति और सहयोग की बुनियाद पर हुई मैत्री संधि में जिन साझे मूल्यों का जिक्र था उनमें उपनिवेशवाद की निंदा और गुटनिरपेक्षता शामिल था. दोनों देशों ने एक दूसरे को यह वायदा भी दिया कि वे कला, साहित्य और सांस्कृतिक क्षेत्रों में आपसी सहयोग को बढ़ावा देंगे।

संधि के अनुच्छेद 6 में इस बात का भी उल्लेख था कि दोनों देश मिलकर संयुक्त नदी आयोग बनाएंगे जिससे पानी के बंटवारे को लेकर दोनों के हितों को सुनिश्चित किया जा सके. बाढ़ से बचने, नदी के घाटी क्षेत्र और पनबिजली के विकास को मिलकर बढ़ावा देने पर भी संधि में सहमति बनी।

भारत और बांग्लादेश के गहरे ऐतिहासिक संबंध सदियों पुराने हैं. साझे इतिहास, धर्म, और संस्कृति वाले दोनों देशों के बीच मित्रता का संबंध 1972 की मैत्री संधि से भी कहीं ज्यादा गहरा माना जाता है।

🔖19 मार्च की अन्य महत्त्वपूर्ण घटनाएँ –

★अमेरिका में, अमेरिका के न्यूयार्क स्थित सिटी बैंक में सन 1831 में पहली बैंक डकैती हुयी जिसमें 245,000 डॉलर को लुटा गया।

★सन 1866 में मोनार्क लीवरपुल में घुसपैठियों से भरा जहाज डूबने से लगभग 750 लोगों की मौत हुई।

★ऑस्ट्रेलिया ने 1877 में पहले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 45 रनों से हराया।

★लूमियर्स ब्रदर्स ने 1895 में अपने नए पैटेंट सिनेमेटोग्राफ से पहला फुटेज रिकॉर्ड किया।

★अमेरिकी सीनेट ने 1920 में लीग ऑफ नेशंस में शामिल होने पर मतदान किया।

★जर्मनी में नाजी और कम्युनिस्टों के बीच 1927 में खूनी संघर्ष हुआ।

★आजाद हिंद फौज ने 1944 में पूर्वोत्तर भारत में राष्ट्रीय ध्वज फहराया।

★पहली बार एकेडमी अवार्ड का 1953 में प्रसारण टेलीविजन पर हुआ।

★इंडोनेशिया ने 1965 में सभी विदेशी तेल कंपनियों का राष्ट्रीयकरण किया।

★फ्रांस ने 1977 में मुरूओरा द्वीप पर परमाणु परीक्षण किया।

★ब्रिटेन तथा बेटिकन में 400 वर्षों के अंतराल के बाद 1982 में राजनयिक संबंध स्थापित।

★कनाडा की राजधानी ओटावा में 1990 में महिलाओं की पहली विश्व आइस हॉकी प्रतियोगिता आयोजित हुई।

★जापान के योकोहामा में 1994 में एक लाख 60 हजार अंडों से विश्व का सबसे बड़ा 1383 वर्गफुट आकार का आमलेट तैयार किया गया।

★सन 1996 में बोस्निया हर्जेगोविना की राजधानी सरायेवो का पुन: एकीकरण।

★अटल बिहारी वाजपेयी 1998 में दूसरी बार प्रधानमंत्री बने।

★यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष जैकस सांटर का 1999 में अपने पद से इस्तीफ़ा।

★ब्रिटेन के उच्च सदन ने 2001 में संगीतकार नदीम के प्रत्यर्पण का प्रस्ताव ठुकराया।

★अमेरिका ने 2004 में विश्व व्यापार संगठन में पहली बार चीन पर मुकदमा ठोका।

★पाकिस्तान ने 2005 में “शाहीन-II” प्रक्षेपास्त्र का सफल परीक्षण किया।

★डोनकुपर रॉय ने 2008 में मेघालय के नये मुख्यमंत्री के रूप में पद एवं गोपनीयता की शपथ ली।

★पाकिस्तान के राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ़ ने 2008 में सरबजीत की फ़ांसी 30 अप्रैल, 2008 तक रोकी।

★सन 2013में महाराष्ट्र में हुए बस दुर्घटना में लगभग 30 लोग मरे।

🔖19 मार्च को जन्मे व्यक्ति –

★मध्य प्रदेश के भूतपूर्व मख्यमंत्री नारायण भास्कर खरे का 1884 में जन्म।

★जैन साहित्य के विशेषज्ञ तथा अनुसन्धानपूर्ण लेखक अगरचन्द नाहटा का 1911 में जन्म।

★हिन्दी सिनेमा के प्रसिद्ध हास्य कलाकार जगदीप का 1939 में जन्म।

★भारतीय शिक्षाविद इंदु शाहानी का 1954 में जन्म।

★भारतीय अभिनेत्री तनुश्री दत्ता का 1984 में जन्म।

🔖19 मार्च को हुए निधन –

★सन 1890 में स्वामी दयानंद सरस्वती के शिष्य एवं आर्य समाज के पाँच प्रमुख नेताओं में से एक पण्डित गुरूदत्त विद्यार्थी का निधन।

★सन 1978 में प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी एवं पूर्व लोकसभा अध्यक्ष एम. ए. अय्यंगार निधन हुआ।

★सन 1982 में महान राजनेता जेबी कृपलानी का अहमदाबाद में निधन हुआ।

★सन 1998 में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के वरिष्ठ नेता ई़ एम़ एस़ नम्बूदरीपाद का निधन।

★सन 2011 में भारतीय फ़िल्म अभिनेता नवीन निश्चल का निधन हुआ।

★सन 2015 में प्रसिद्ध भाषा चिंतक और शिक्षाविद सूरजभान सिंह का निधन हुआ।

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved