Satya Darshan

21 फरवरी: इतिहास मे आज क्या है खास

21 फरवरी अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस के रूप में मनाया जाता है. यह दिन बांग्लादेश के इतिहास में खास महत्व रखता है।

हर साल 21 फरवरी को संयुक्त राष्ट्र मातृभाषा दिवस के रूप में मनाता है. यह दिन दुनिया भर में मौजूद विभिन्न भाषाओं की विविधता को सम्मान देने के लिए मनाया जाता है. साथ ही यह दिन उन शहीद छात्रों को समर्पित है जिन्होंने बांग्ला भाषा के इस्तेमाल के अधिकार के लिए तब मुहिम छेड़ी जब बांग्लादेश आजाद नहीं हुआ था, पूर्वी बंगाल पाकिस्तान का हिस्सा था।
 
भारत और पाकिस्तान के विभाजन के बाद 1948 में पाकिस्तान सरकार ने उर्दू को राष्ट्रभाषा का दर्जा दिया. इस दौरान पूर्वी पाकिस्तान (मौजूदा बांग्लादेश) में इस फैसले का कड़ा विरोध हुआ. 21 फरवरी 1952 को ढाका यूनिवर्सिटी के छात्रों और कई अन्य सामाजिक कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किए. विरोध रोक पाने में नाकामयाब होने पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चला दीं. इस घटना में चार छात्र मारे गए।

आगे भी तत्कालीन पूर्वी पाकिस्तान में इस तरह के प्रदर्शन जारी रहे. 29 फरवरी 1956 को बांग्ला भाषा को पाकिस्तान में आधिकारिक भाषा का दर्जा मिला।

1952 में भाषा आंदोलन के दौरान मारे गए छात्रों की याद में यूनेस्को ने 1999 में आज के दिन को अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस घोषित किया. पहली बार 21 फरवरी 2000 को अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस के रूप में मनाया गया था।

🔖21 फरवरी की अन्य महत्त्वपूर्ण घटनाएँ –

★रूस में रोमानोव वंश का शासन 1613 में स्थापित हुआ।

★डचों ने 1795 में श्रीलंका, सीलोन अंग्रेज़ों को सौंप दिया।

★अमेरिका में सिलाई मशीन का 1842 में पेटेंट कराया गया।

★फ्रेडरिक एंगेल्स और कार्ल मार्क्स ने 1848 में कम्युनिस्ट घोषणापत्र प्रकाशित किया।

★अमेरिका के कनेक्टिकट में 1878 में पहली टेलीफोन डायरेक्टरी जारी की गई।

★पुड्डुचेरी स्थित अरविंदो आश्रम की मां मीरा अलफासा का 1878 में पेरिस में जन्म।

★अंग्रेज़ी भाषा के कवि आडेन का 1907 में जन्म।

★बर्दुन का युद्ध 1914 से प्रारम्भ।

★फ़्रांस में 1916 में प्रथम विश्व युद्ध में बर्डन की लड़ाई भड़की।

★बावारेवा के प्रधानमंत्री कुर्तरिजनर की 1919 में म्यूनिख में हत्या हुई।

★न्यूयॉर्कर मैगजीन के प्रथम संस्करण का 1925 में प्रकाशन।

★ब्रिटेन नरेश जार्ज षष्ठ ने 1943 में रूसियों को सम्मानित किया।

★मिस्र में ब्रिटेन के ख़िलाफ़ 1946 में विरोध प्रदर्शन।

★नयी दिल्ली में प्रेस क्लब आफ इंडिया की 1959 में स्थापना।

★सोवियत संघ ने 1963 में अमेरिका को चेतावनी दी कि क्यूबा पर हमला विश्वयुद्ध में बदल सकता है।

★अमरीका के तत्कालीन राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन 1972 में चीन की यात्रा पर गए थे।

★युगोस्लाविया ने 1974 में संविधान स्वीकार किया।

★राष्ट्रसंघ मानवाधिकार आयोग ने 1975 में अधिकृत अरब क्षेत्रों में दमनात्मक कार्रवाई के लिए इस्रायल की कड़ी निंदा की।

★नासा ने 1981 में सेटेलाइट कोमस्टर-4 का प्रक्षेपण किया।

★दक्षिण अफ्रीका सरकार ने 1986 में जोहान्सबर्ग और डरबन अश्वेतों के लिए खोल दिए।

★कंबोडिया के प्रधानमंत्री हुन सेन ने 1990 में राजकुमार सिंहानुक से बैंकाक में शांतिवार्ता की।

★अल्बानिया में राष्ट्रपति ने 1991 में पुलिस विद्रोह के बाद नई सरकार के गठन की घोषणा की।

★चीन ने 1992 में शंघाई शेयर बाज़ार में विदेशियों को कामकाज की अनुमति दी।

★1998 में भारतीय चरित्र अभिनेता ओम प्रकाश का निधन।

★पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ़ ने 1999 में लाहौर घोषणापत्र पर हस्ताक्षर किए।

★2001 में सहस्रशताब्दी के महाकुंभ का समापन।

★स्पेन के निवासियों ने 2005 में जनमत संग्रह में यूरोपियन संघ के संविधान का व्यापक समर्थन किया।

★लॉन टेनिस में सानिया मिर्ज़ा 2004 में डब्ल्यू.टी.ए. खिताब जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बनी।

★हिन्दुस्तान मोटर्स ने 2009 में अपने प्रबन्धकों की तनख़्वाह घटाई।

🔖21 फ़रवरी को जन्मे व्यक्ति – 

★भारतीय आध्यात्मिक नेता दा मदर मिर्रा अलफ़ासा का 1878 में जन्म।

★भारत के प्रसिद्ध वैज्ञानिक शान्ति स्वरूप भटनागर का 1894 में जन्म।

★एक कवि, उपन्यासकार, निबन्धकार और कहानीकार सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला का 1896 में जन्म।

★भारतीय रेसिंग ड्राइवर प्रतिभा सुरेशवारन का 1980 में जन्म।

🔖21 फ़रवरी को हुए निधन –

★1991 में भारतीय अभिनेत्री अौर गायिका नूतन का निधन।

★1998 में भारतीय सिनेमा के प्रसिद्ध चरित्र अभिनेता ओम प्रकाश का निधन।

★1970 में भारतीय राजनीतिज्ञ तथा मध्य प्रदेश के भूतपूर्व राज्यपाल हरि विनायक पाटस्कर का निधन।

★1829 में झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई के समान कर्नाटक की वीरांगना और स्वतंत्रता सेनानी रानी चेन्नम्मा का निधन।

🔖21 फ़रवरी के महत्त्वपूर्ण अवसर एवं उत्सव – 

★अन्तर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved