Satya Darshan

श्रीदेवी का हुआ था मर्डर, IPS अधिकारी के दावे से मचा हडकंप, बोनी कपूर ने किया इंकार

मुंबई | जुलाई 12, 2019

बालीवुड की दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवी की मौत को लेकर हाल ही में केरल के जेल डीजीपी ऋषिराज सिंह ने एक चौंकाने वाला दावा किया। जिस वजह से हर तरफ सवाल और चर्चा का माहौल बन गया।

डीजीपी के मुताबिक, अभिनेत्री श्रीदेवी की मौत बाथटब में डूबने की वजह से नहीं हुई बल्कि ये एक मर्डर है। हर तरफ इसी बात की चर्चा है कि आखिर ऐसा कैसे हो सकता है ? हालांकि डीजीपी ने ये दावा अपने दोस्त और फॉरेंसिंक सर्जन डॉ. उमादथन के हवाले से किया है, जिनका हाल ही में निधन हो चुका है।

ऋषिराज सिंह ने बताया कि उनके दोस्त डॉ. उमादथन के पास इस बात के सबूत थे लेकिन हाल ही में उनकी मौत हो गई है। दरअसल डॉ. उमादथन को क्राइम मामलों और खासतौर पर मर्डर मिस्ट्री को सुलझाने का उस्ताद माना जाता था। केरल पुलिस जब कई मौकों पर मर्डर मामलों को सुलझाने में थक जाती थी, तब उमादथन को बुलाया जाता था। फॉरेंसिक के विद्वान डॉ. उमादथन को मर्डर मिस्ट्री केस सुलझाने की काबिलियत का लोहा केरल सरकार भी मानती है।

अब ऐसे में डीजीपी के इस दावे पर श्रीदेवी के पति और बॉलीवुड के जाने माने प्रोड्यूसर बोनी कपूर का भी बयान सामने आया है।

डीजीपी के दावे पर बोनी कपूर का कहना है कि मैं ऐसी बकवास बातों पर कोई जवाब नहीं देना चाहता हूं। और वैसे भी ऐसी बातों पर कोई रिएक्शन नहीं दिया जाना चाहिए क्योंकि ऐस तरह की अनर्गल बातें आती ही रहेंगी, आप इन्हें आने से रोक नहीं सकते हैं। ये किसी की कल्पना का हिस्सामात्र है। बता दें पत्नी श्रीदेवी की मौत के बाद से बोनी काफी टूट गए हैं। वहीं अक्सर वो अपनी पत्नी श्री के लिए प्यार और उन्हें याद करने की बातें करते रहते हैं। हाल ही में एक चैट शो के दौरान वो श्री को याद करते हुए काफी भावुक भी हो गए थे।

खबर के अनुसार, ऋषिराज सिंह ने कहा, ‘मैंने जिज्ञासावश अपने दोस्त डॉ. उमादथन से श्रीदेवी की मौत के बारे में पूछा था। लेकिन उनके जवाब ने मुझे झकझोर कर रख दिया। उसने बताया कि वह पूरे मामले को बहुत करीब से देख रहा था। मामले पर रिसर्च के दौरान उसने कई परिस्थितियां ऐसी बन रही थीं, जिनसे साफ हो रहा था यह एक एक्सिडेंट से हुई मौत नहीं थी। यहां तक उसके रिसर्च के दौरान कई सबूत उभरे थे, जिनसे श्रीदेवी की मौत के मर्डर होने के पूरी संभावना उभरती है।

गौरतलब है कि श्रीदेवी की मौत के बाद दुबई पुलिस ने लंबी पड़ताल की थी। लेकिन सबूतों के अभाव में उनकी मौत का असल कारण नहीं पता चल पाया था। तब उनकी मौत को महज एक्सिडेंट बता दिया गया था। इस बाबत करीब डेढ़ साल बाद डीजपी ऋषिराज सिंह के अपने दोस्त के हवाले से लिखे गए लेख से फिर विवाद बढ़ा है।

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved