Satya Darshan

गुजरात: पिछले पांच साल में सरकारी नौकरी देने के मामले में 85 फीसदी की गिरावट

अहमदाबाद | जुलाई 10, 2019

सरकारी रोजगार देने के मामले में गुजरात में बहुत ज्यादा गिरावट दर्ज की गयी है. पिछले 5 सालों में इसमें 85 फीसदी की गिरावट देखी गयी है. ये आंकड़े उस वक्त सामने आये जब विधानसभा में इससे संबंधित प्रश्न पूछा गया. सरकार की ओर से नौकरियों के आंकड़े जारी किये गये हैं. 

इन आंकड़ों के हिसाब से साल 2013-14 से साल 2017-18 के बीच मात्र 57,920 सरकारी नौकरियां दी गयीं. अक्टूबर 2013 से सितंबर 2014 के बीच 25,566 सरकारी नौकरियों के अवसर सामने आये. इन दो सालों के बाद सरकारी नौकरियों में भारी गिरावट दर्ज की गयी. फरवरी 2017 से सितंबर 2018 के बीच मात्र 3,584 नौकरियां ही दी जा सकीं.

विधानसभा में कांग्रेस के विधायक सोमाभाई पटेल ने सवाल किया था कि राज्य में सरकार ने कितनी सरकारी और निजी नौकरियां उपलब्ध करायीं. जवाब में गुजरात सरकार के रोजगार मंत्री दिलीप कुमार ठाकोर ने नौकरियों से संबंधित आंकड़े प्रस्तुत किये. इन आंकड़ों में बताया गया है कि पिछले 5 सालों में राज्य के 33 जिलों के 57,920 लोगों को सरकारी नौकरियां मुहैया करायी गयीं. 

मौजूदा समय में गुजरात में कुल 17,52,890 नौकरियां लोगों को दी गयीं. कुल नौकरियों में सरकारी नौकरी का हिस्सा 3.3 फीसदी रहा है. जिन जिलों में सबसे ज्यादा सरकारी नौकरियां दी गयी हैं उनमें नर्मदा, अमरेली, गोधरा और कच्छ शामिल हैं. नर्मदा जिले में सबसे ज्यादा सरकारी नौकरियां दी गयी हैं.

हाल ही में गुजरात सरकार ने संशोधित बजट भी पेश किया है. अपने बजट भाषण में डिप्टी सीएम नितिन पटेल ने बताया था कि पिछले 5 सालों में राज्य में 1,18,478 नौकरियां दी गयी हैं. उन्होंने यह भी कहा था कि अगले 3 सालों में सरकार 60,000 लोगों को नौकरी देने की योजना बना रही है. 

हालांकि सरकार के लिए राहत की बात यह है कि राज्य में नजी नौकरियों के क्षेत्र में 32 फीसदी का उछाल आया है. बीते 5 सालों में राज्य में 16,94,970 लोगों को निजी क्षेत्रों में रोजगार मिला है.

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved