Satya Darshan

बाजार को रास नहीं बजट, सेंसेक्स में साल की सबसे बड़ी गिरावट

मुंबई | जुलाई 9, 2019

मुंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स एक समय 907 अंक नीचे चला गया था। हालांकि, बाद में यह थोड़ा उबरकर 792.82 अंक यानी 2.01 फीसद गिरकर 38,720.57 अंक पर बंद हुआ।

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 252.55 अंक यानी 2.14 प्रतिशत टूटकर 11,558.60 अंक पर बंद हुआ।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन द्वारा शुक्रवार को बजट पेश किये जाने के बाद सेंसेक्स ने उसी दिन 394.67 अंक का गोता लगाया था।

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के भूषण पावर एंड स्टील लिमिटेड (बीपीएसएल) को दिए गए ऋण में 3,800 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी सामने आने के बाद पीएनबी के शेयर में 11 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी।

बजाज फाइनेंस, ओएनजीसी, एनटीपीसी, हीरो मोटोकॉर्प और मारुति के शेयरों में सबसे अधिक गिरावट देखने को मिली।

सैंक्टम वेल्थ मैनेजमेंट के मुख्य निवेश अधिकारी सुनील शर्मा ने कहा, ''बजट निवेशकों की धारणा को मजबूत करने में विफल रहा। बाजार को उम्मीद थी कि वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए पैकेज की घोषणा हो सकती है लेकिन ऐसा नहीं होने से निराशा बढ़ गयी। इसके साथ ही आगामी तिमाहियों में बिक्री में कमजोर वृद्धि से भी धारणा प्रभावित हो रही है।''

बीएसई पर टिकाऊ उपभोग सामान, रीयल्टी, वाहन, बिजली, उद्योग, वित्त, बैंक, तेल और गैस सहित सभी क्षेत्र के संकेतक गिरावट लिए रहे।

हालांकि, येस बैंक, एचसीएल टेक और टीसीएस के शेयरों में 5.56 प्रतिशत तक की बढ़त देखने को मिली।

कारोबारियों के मुताबिक बजट 2019-20 में सूचीबद्ध कंपनियों के लिए सार्वजनिक हिस्सेदारी बढ़ाने, विदेशी पोर्टफोलियों निवेशकों एवं अमीरों पर कर बढ़ाने वाले प्रस्तावों से निवेशकों की धारणा कमजोर रही।

शेयरों की पुनर्खरीद पर शुल्क जैसे अन्य कर प्रस्तावों से भी निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई।

वैश्विक शेयर बाजारों में भारी बिकवाली के समाचारों का भी स्थानीय शेयरों पर असर पड़ा। अमेरिका में रोजगार के ताजा आंकड़े उम्मीद से बेहतर है। इससे आगामी बैठक में अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज में बड़ी कटौती की उम्मीद धूमिल हो गयी है। अमेरिका में ब्याज दर ऊंची होने से विदेशी निवेशक उभरते बाजारों से धन निकाल कर अमेरिकी बांड बाजार में लगाने को आकर्षित हो सकते हैं।

इसका खासकर चीन, दक्षिण कोरिया और अन्य एशियाई बाजारों पर असर पड़ा। एशियाई बाजारों में उल्लेखनीय गिरावट दर्ज की गयी। शंघाई कम्पोजिट इंडेक्स 2.58 प्रतिशत, हैंगसेंग 1.54 फीसदी, निक्की 0.98 प्रतिशत और कोस्पी 2.20 प्रतिशत की गिरावट के साथ बंद हुए।

यूरोपीय बाजार भी शुरुआती कारोबार में नुकसान में चल रहे थे।

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved