Satya Darshan

एक और कारोबारी ने लगाया पीएनबी को 3800 करोड़ का चूना, मचा हडकंप

नयी दिल्ली | जुलाई 8, 2019

पीएनबी बैंक में धोखाधड़ी के मामले बढ़ते जा रहे हैं। नीरव मोदी द्वारा लगाया 13 00 करोड़ का चूना अभी तक बैंक के लिए सिरदर्द बना हुआ है कि अब फिर से एक बड़ा फ्राड सामने आ गया है। पीएनबी बैंक ने गत दिवस एक और बड़े फ्राड का खुलासा किया है।

पंजाब नेशनल बैंक के शनिवार को कहा कि  उसने भूषण पावर एंड स्टील लिमिटेड (बीपीएसएल) की 3,800 करोड़ रुपये से ज्यादा की धोखाधड़ी का पता लगाया है। पीएनबी ने बीपीएसएल कंपनी के इस फर्जीवाड़े की शिकायत भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) से की।

शिकायत में बताया गया है कि फॉरेंसिक ऑडिट के जरिे कंपनी ने कर्जदाता बैंको के समूह से फंड जुटाने के लिए दस्तावेजों और खातों में हेरफेर किया है। बैंक ने इस फ्राड की जानकारी शेयर बाजार में भी दे दी है।

बैंक ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा, 'फरेंसिक ऑडिट जांच और स्वत: संज्ञान लेकर कंपनी और उसके निदेशकों के खिलाफ सीबीआई की प्राथमिकी के आधार पर बैंक ने आरबीआई को 3,805.15 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की रिपोर्ट दी है।

गौरतलब है कि शनिवार को ही ऋण वसूली अधिकरण (डीआरटी) ने पीएनबी को राहत देते हुए भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को आदेश दिया कि वह पीएनबी और अन्य को ब्याज सहित 7200 करोड़ रुपये लौटाएं।

आपको बता दें कि हीरा कारोबारी नीरव मोदी पीएनबी बैंक को 13,500 करोड़ रुपये का बैंक कर्ज का चूना लगा चुका है। 2018 में घोटाले के सामने आने से कुछ महीने पहले ही वह भारत से फरार हो गया था। नीरव मोदी ने लेटर ऑफ अंडरटेकिंग्स (एलओयू) के जरिए भारत और विदेश में स्थित बैंक की शाखाओं से रकम हासिल की थी।

घोटाला सामने आने के बाद सीबीआई और ईडी ने केस दर्ज कर उसकी संपत्तियां जब्त कीं, फिलहाल लंदन की एक कोर्ट में उसके खिलाफ कार्रवाई चल रही है।

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved