Satya Darshan

अलीगढ़ हत्याकांड को लेकर बीजेपी पर हमलावर हुई शिवसेना, कहा खोखले हैं 'बेटी बचाओ' के नारे

मुंबई (एसडी) | जून 11, 2019

शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में छपे एक संपादकीय के जरिए शिवसेना ने BJP पर तंज कसते हुए कहा कि जीत का जश्न समाप्त हो गया हो तो अलीगढ़ में हुए दर्दनाक कांड की तरफ भी देखना चाहिए। संपादकीय में कहा गया कि कांग्रेस, बॉलीवुड और खेल जगत के कई दिग्गजों ने इस घटना के प्रति अपना गुस्सा जाहिर किया मगर सत्ताधीश के रूप में दोबारा चुनकर आए अपनी मर्यादा भूल गए।

दरअसल लेख में यूपी कैबिनेट मिनिस्टर उपेंद्र तिवारी के उस बयान पर निशाना साधा गया जिसमें उन्होंने कहा कि रेप के अलग-अलग प्रकार होते हैं। उन्होंने कहा कि कई बार महिलाएं 6-7 साल रिश्ते में रहने के बाद भी बलात्कार का आरोप लगा देती हैं, ऐसा है तो सवाल तो उठेगा कि सात साल पहले क्यों नहीं कहा।

संपादकीय में कहा गया, ‘मोदी और शाह ऐसे लोगों को बार-बार समझाते रहते हैं, फिर भी ये लोग क्यों भटक जाते हैं? साक्षी महाराज जेल में जाकर बलात्कार के एक आरोपी से मिले। उत्तर प्रदेश में ढाई साल की बच्ची के साथ जो घटा यह विकृति है।’ इसमें कांग्रेस शासनकाल के दौरान निर्भया कांड का हवाला देते हुए कहा कि उस वक्त जिन लोगों ने संसद नहीं चलने दी वहीं लोग आज सत्ता में बैठे हैं।

अलीगढ़ प्रकरण में पुलिस केस में देरी को लेकर भी शिवसेना ने यूपी सरकार पर निशाना साधा। कहा गया, ‘ढाई साल की बच्ची गायब हो गई मगर पुलिस ने केस दर्ज करने में टालमटोल की और जांच में भी देरी की। ऐसे में ‘बेटी बचाओं’ के नारे खोखले साबित होते हैं। अलीगढ़ की घटना मानवता पर कलंक है। समाज का सिर शर्म से झुक गया है।’

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved