Satya Darshan

आंतरिक सुरक्षा में विफल सरकार, पीएम मोदी दें जवाब : कांग्रेस

नयी दिल्ली (एसडी) | मई 1, 2019 

कांग्रेस ने गढचिरौली में नक्सली हमले में 15 जवानों की शहादत पर गहरा शोक जताते हुए आरोप लगाया है कि आतंरिक सुरक्षा के नाम पर मोदी सरकार ने पांच साल में सिर्फ खोखले दावे किए हैं और नक्सलवाद रोकने में वह असफल रही है इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इसकी जिम्मेदारी लेनी चाहिए। 

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी गढचिरौली में जवानों के शहीद होने पर गहरा क्षोभ जताया और कहा ‘‘गढ़चिरौली, महाराष्ट्र में सुरक्षा जवानों के ऊपर हुए हमले की खबर से, मुझे बहुत दुख पहुंचा है।

पीड़ति परिवारों के प्रति, मैं गहरी शोक और संवेदना व्यक्त करता हूँ।’’ बाद में कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने बुधवार को यहां पार्टी मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि आंतरिक सुरक्षा तथा राष्ट्रीय सुरक्षा के नाम पर मोदी सरकार ने बड़े बडे दावे किए हैं लेकिन असलियत यह है कि उसके यह सब दावे खोखले साबित हुए हैं और इन दावों की आड़ में वह राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता करती रही है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने हमारे जवानों की शहादत पर राजनीति कर उनके खून से फायदा लेने की कोशिश की है।

नक्सलवाद को रोकने के लिए ठोस कदम उठाने की बजाय इस सरकार ने जवानों की शहादत पर राजनीतिक लाभ अर्जित करने का लगातार प्रयास किया है और जब नक्सली इस तरह के कायराना हमले करते हैं तो मोदी उनकी सरकार चुप्पी साध लेती हैं। 

खेड़ा ने कहा कि पांच साल के दौरान 1086 नक्सली हमले हुए हैं जिनमें 391 जवान शहीद हुए हैं और 582 नागरिक मारे गये। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के कार्यकाल के दौरान नक्सलियों के खात्मे के लिए उसकी ठोस नीति नहीं होने के कारण पिछले दस साल में सीआरपीएफ के एक हजार  जवान शहीद हुए हैं और नक्सलवाद खत्म होने की बजाय वहां तीन और जिलों में  इसने पांव पसारे हैं।

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved