Satya Darshan

मोदी सरकार के मंत्रियों के बंगलों व कार्यालय के सुंदरीकरण पर एक अरब खर्च, RTI से आया सामने

नयी दिल्ली | अप्रैल 27, 2019

पिछले पांच साल में केंद्रीय मंत्रियों के बंगलों और कार्यालयों के नवीनीकरण (रेनोवेशन) पर 100 करोड़ रुपये से अधिक की धनराशि खर्च की गयी है. 

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार एक आरटीआई के जवाब में सीपीडब्ल्यूडी ने कहा कि मंत्रियों के बंगलों और कार्यालयों के रेनोवेशन पर 93.69 करोड़ रुपये ख़र्च किये गये हैं जबकि 8.11 करोड़ रुपये  सजावट पर ख़र्च हुए. बता दें कि केंद्रीय लोक निर्माण विभाग (सीपीडब्ल्यूडी) मरम्मत, रखरखाव और सजावट के लिए अधिकृत एजेंसी है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में 70 मंत्री हैं, जिसमें से 25 कैबिनेट मंत्री, 11 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और 34 राज्यमंत्री हैं. आरटीआई के तहत साल 2014-2015, 2015-2016, 2017-2018 और 2018-2019 के दौरान केंद्रीय मंत्रियों और राज्यमंत्रियों के आवास और कार्यालयों के रेनोवेशन पर हुए  ख़र्च का ब्योरा मांगा गया था. 

इसके अनुसार  2014-2015 में 22.97 करोड़ रुपये,  2015-2016 में 24.44 करोड़, 2016-2017 में 24.29 करोड़ ,  2017-2018 में 13.74 करोड़ और  2018-2019 में 16.33 करोड़ रुपये खर्च किये गये.

आरटीआई के तहत अलग-अलग मंत्री के बंगले और कार्यालयों के रेनोवेशन और अन्य कामों के लिए ख़र्च हुई धनराशि की जानकारी मांगी गयी थी लेकिन सीपीडब्ल्यूडी द्वारा जवाब में सामूहिक आंकड़ा उपलब्ध कराया गया. 

ये आंकड़े एक अप्रैल 2014 से 28 फरवरी 2019 के बीच के हैं. मोदी सरकार ने 26 मई 2014 को शपथ ली थी. ऐसा संभव है कि इन खर्च का एक छोटा हिस्सा पिछली यूपीए-2 सरकार के आखिरी 56 दिनों में खर्च हुआ. वैसे लगता नहीं कार्यकाल के अंतिम माह में रेनोवेशन किया या कराया गया हो.

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved