Satya Darshan

ये कैसा राष्ट्रवाद है जिसमें शहादत का माखौल उड़ाया जा रहा है और देश के पीएम खामोश हैं- दिग्विजय सिंह

सीहोर | अप्रैल 24, 2019

आतंकवाद से कांग्रेस ने कभी समझौता नहीं किया। आतंकवाद से समझौता हमेशा भाजपा की सरकार में हुआ है। मैं एक सवाल मोदी से पूछना चाहता हूं, जब आपकी भाजपा के उम्मीदवार, भाजपा के समर्थक इंद्रेश कुमार और स्वामी असीमानंद ये जब हेमंत करकरे की शहादत पर मखौल उड़ा रहे हैं, अपमानित कर रहे हैं तो आप चुप क्यों हैं? क्या यह उचित है? ये कैसा राष्ट्रवाद है?

यह बात मंगलवार को भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने शहर में सभाएं करते हुए मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। गंज में सभा के दौरान सिंह ने कहा कि महात्मा गांधी एकता, अखंडता की बात करते थे, निहत्थे अहिंसा के रास्ते पर चलकर आजादी की लड़ाई लड़ी, इसलिए उनकी हत्या कर दी गई। उनको किसी और ने नहीं मारा, नाथूराम गोडसे ने मारा।

जो उस विचारधारा में विश्वास रखता था। भारत की अखंडता के लिए इंदिरा गांधी ने शहादत दी। राजीव गांधी ने देश की सुरक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर लिए। पंजाब, असम और अन्य राज्यों में कांग्रेस के लोग शहीद हुए। भाजपा का कोई भी व्यक्ति आतंकवाद का शिकार हुआ तो मुझे बताइए। सिंह ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कहा कि कांग्रेस इस विषय पर चुप न रहे ,जब भी भाजपा आतंकवाद की बात करें तो उन्हें जवाब देना चाहिए कि कांग्रेस पार्टी ने भी आतंकवाद से समझौता नहीं किया, कांग्रेस ने हमेशा आतंकवाद से लड़ाई लड़ी है। 

सिंह ने कहा कि देश में पिछले पांच सालों में महंगाई बढ़ी, बेरोजगारी बढ़ी, नोट बंदी में नए नए नियम बने। नोट बंदी में लोगों की गाढ़ी कमाई का पैसा छिना गया। नोट बंदी में अमित शाह ने कमीशन खाया है। रोजगार मिलने के बजाय नोट बंदी में 25 लाख लोगों की नौकरियां चली गई। सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर इन्होंने पॉलिटिकल इश्यू बनाया हुआ है। जबकि चुनाव आयोग ने कहा है कि यह बात उन्हें करना नहीं चाहिए। 

दिग्विजय सिंह ने बड़ा बाजार स्थित अग्रवाल पंचायती भवन में मुख्य चुनाव कार्यालय का उद्घाटन किया। इसके बाद कार्यकर्ताओं की बैठक ली और नगर के व्यापारियों से सीधा संवाद भी किया।

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved