Satya Darshan

अडानी समूह को कोयला, गैस, राजमार्ग की परियोजनाओं में मिले अरबों के एकमुश्त ठेके

नयी दिल्ली (एसडी) | अप्रैल 21, 2019

कंपनी के करीबी सूत्रों ने जानकारी दी कि कंपनी ने आक्रामक तरीके से बोलियां लगाकर लॉजिस्टिक, खनन, ऊर्जा, निर्माण और कृषि उत्पादों के क्षेत्र में परियोजनाएं हासिल कीं और अपने पोर्टफोलियो का विविधीकरण किया।

फरवरी में अडाणी एंटरप्राइजेज ने देश में आधा दर्जन हवाईअड्डों के विकास के लिए बोलियां लगायी। कंपनी ने इन हवाईअड्डों के लिए भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण को अगले 50 साल के लिए प्रति यात्री सबसे अधिक शुल्क देने की पेशकश की थी।

सूत्रों ने बताया कि कंपनी को कोयला खान विकास और परिचालन के ठेके मिले जिनकी कुल उत्पादन क्षमता 6.4 करोड़ टन सालाना से ज्यादा है।

अडाणी ग्रीन एनर्जी ने पिछले पांच साल में 2,623 मेगावाट की सौर ऊर्जा और 1,547 मेगावाट की पवन ऊर्जा परियोजनाओं की निविदा तीति। साथ ही कंपनी ने प्रतिगामी नीलामी में 390 मेगावाट की हाइब्रिड परियोजनाओं के ठेके भी प्राप्त किए। नीलामी में सबसे कम दर पर बिजली उपलब्ध कराने वाली कंपनी को ठेका मिलता है।

सूत्रों ने जानकारी दी कि 1,300 औद्योगिक इकाइयों और करीब चार लाख खुदरा ग्राहकों को गैस की आपूर्ति करने वाली अडाणी गैस को पिछले साल नवंबर में 13 शहरों में पाइप के जरिये रसोई गैस पहुंचाने और सीएनजी की खुदरा बिक्री करने का ठेका मिला। अभी अडाणी गैस उत्तर प्रदेश के खुर्जा, हरियाणा के फरीदाबाद और गुजरात के वडोदरा एवं अहमदाबाद में गैस की आपूर्ति करती है।

View More

Search

Search by Date

जनमत

वाराणसी से पीएम मोदी लोस चुनाव 2019 जीतेंगे?

Navigation

Follow us

Mailing list

Copyright 2018. All right reserved